ज्योतिष शास्त्र की मान्यता के अनुसार जब कभी भी ग्रहों का गोचर होता है तो उसका प्रभाव समस्त प्राणियों पर पड़ता है. गोचर के परिणामस्वरूप सबसे अधिक प्रभाव डालने वाले ग्रह सूर्य और बृहस्पति हैं. कुंडली के निर्णाम में भी सूर्य के गोचर का अहम महत्व है.

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्य देव नए साल में मेष राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं. मेष, सूर्य देव की उच्च राशि मानी गई है. जब कोई भी ग्रह अपनी उच्च राशि में प्रवेश करता है तो वह सबसे अधिक शक्तिशाली हो जाता है. जिसके परिणामस्वरूप गोचर का पूर्ण फल प्राप्त होता है. आइए जानते हैं कि नए साल में सूर्य के गोचर से किन राशियों के अच्छे दिन आएंगे.

मेष राशि: सूर्य मेष राशि के पंचम भाव के स्वामी हैं होने के साथ-साथ योगकारक भी माने गए हैं. इनका लग्न भाव में गोचर बेहद शुभ परिणाम देता है. इसमें भी अगर कुंडली में सूर्य त्रिकोण में ही स्थिति हों, तो बेहद शुभ परिणाम मिलेंगे. सूर्य देव आपको पंचम भाव के शुभ फल देंगे. यानी प्रेम प्रसंगों में सफलता मिलेगी, संतान का सुख मिलेगा. अगर आपकी संतान किसी प्रतियोगिता परीक्षा में बैठ रही हो, तो उसे पक्के तौर पर कामयाबी मिलेगी. इस दौरान शिक्षा, शेयर बाजार, निवेश आदि से जुड़े लोगों को विशेष सफलता मिलेगी.

कर्क राशि: सूर्य आपके दूसरे भाव के स्वामी हैं और दशम भाव में गोचर कर रहे हैं. यानी कार्यक्षेत्र में बड़ा आर्थिक लाभ मिलेगा. कर्म के भाव में सूर्य के गोचर से आपको नई जॉब का ऑफर मिलने के योग भी बन रहे हैं. इसके अलावा आपको नौकरी में तरक्की मिल सकती है. सरकारी जॉब मिलने के योग हैं. सरकार से मदद मिल सकती है. अगर आपको व्यवसाय के लिए बैंक से लोन लेना हो, तो इस अवधि में आपका काम जरूर हो जाएगा. कारोबार से जुड़े लोगों को जबरदस्त मुनाफा होगा और बैंक बैलेंस काफी ऊपर चला जाएगा. परिवार से लिए ये शुभ समय है.

सिंह राशि: सूर्य आपकी राशि के स्वामी हैं और त्रिकोण भाव यानी नवम स्थान में गोचर कर रहे हैं. राशि के स्वामी का भाग्य स्थान में गोचर इस राशि के जातकों के लिए बहुत शुभ रहने वाला है. इस दौरान आपकी धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी और तीर्थ यात्रा का योग भी बन सकता है. इस समय आपके सभी रुके हुए काम पूरे हो जाएंगे और सुकून महसूस करेंगे. सूर्य का परिवर्तन सिंह आर्थिक रूप से भी अच्छा हो सकता है. कारोबार या नौकरी के सिलसिले में लंबी यात्रा हो सकती है, जो भविष्य में काफी लाभदायक सिद्ध होगी. प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों को उनकी मेहनत का फल मिल सकता है.

मकर राशि: सूर्य देव का मेष राशि में गोचर मकर राशि के जातकों के लिए भी शुभ साबित हो सकता है. सूर्य देव आपकी राशि से चतुर्थ भाव में गोचर करने जा रहे हैं. जिसे भौतिक सुख और माता का स्थान माना जाता है. ऐसे में इस दौरान आपको सभी भौतिक सुखों की प्राप्ति हो सकती है. साथ ही आप घर, वाहन, भूमि या कोई लग्जरी सामान भी खरीद सकते हैं. इसके अलावा माता के साथ आपको संबंधों में मजबूती देखने को मिलेगी. साथ ही माता के सहयोग से धन की प्राप्ति हो सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *