पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने कहा कि उनकी जिंदगी से बस एक ही चीज मिसिंग है और वह है 2011 वर्ल्ड कप में मोहाली मैच में भारत के खिलाफ मिली हार का बदला लेना, जो वह चाहते हैं इस साल हो जाए।

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने अपने एक अधूरे सपने के बारे में बात की और वह चाहते हैं कि उनका यह सपना इस साल पूरा हो जाए। 2023 आईसीसी वर्ल्ड कप की मेजबानी भारत को करनी है। इस साल होने वाले वर्ल्ड कप में अख्तर चाहते हैं कि पाकिस्तान फाइनल जीते और मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में वह पाकिस्तान का नैशनल एंथम गाएं। 50 ओवर के वर्ल्ड कप में पाकिस्तान आज तक कभी टीम इंडिया से जीत नहीं पाया है। हालांकि टी20 वर्ल्ड कप में यह रिकॉर्ड 2021 में टूट गया था, जब पहली बार भारत किसी भी वर्ल्ड कप में पाकिस्तान से हारा था।

पाकिस्तानी जर्नलिस्ट फरीद खान ने अख्तर के हवाले से ट्विटर पर लिखा, ‘मैं चाहता हूं कि 2023 वर्ल्ड कप जो इंडिया में होना है, तब उसके लिए मैं पाकिस्तान टीम के साथ काम करूं। मेरी ख्वाहिश है कि हम वर्ल्ड कप जीतें और मुंबई के वानखेड़े में अपना नैशनल एंथम गाएं। मैं जीत के साथ 2011 वाला मोहाली चैप्टर खत्म करना चाहता हूं। बस यही एक चीज मेरी जिंदगी में मिसिंग है।’

2011 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत ने पाकिस्तान को मोहाली में हराया था। भारत ने वह मैच 29 रनों से जीता था। 2011 वर्ल्ड कप के लिए शोएब अख्तर पाकिस्तान स्क्वॉड का हिस्सा थे, लेकिन सेमीफाइनल मैच वह नहीं खेले थे। भारत ने 9 विकेट पर 260 रन बनाए थे, जवाब में पाकिस्तान की टीम 231 रनों पर ऑलआउट हो गई थी। सचिन तेंदुलकर ने उस मैच में 85 रन ठोके थे मैन ऑफ द मैच चुने गए थे।

Category :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *